मानवताकी पाठशाला ने मानयी भाईदूज__
हर बहन की आंखों का तारा होता है भाई
बहन के लिए सारा जहां होता है भाई

0

भिण्ड से सोनल जैन की रिपोर्ट

दुनिया के तमाम रिश्तों में भाई और बहन के रिश्ते की अपनी अलग ही पहचान है, कभी भाई अपने बहन के लिए पिता तो कभी मां का दायित्व निभाते नजर आते हैं तो कभी बहन अपने भाईयों के लिए मां और पिता का फर्ज़ अदा करती हैं।

आज इसी रिश्ते की डोर को मजबूत करने की अभिलाषा लेकर मानवता की पाठशाला के सदस्यों द्वारा कीर्ति स्तम्भ मंदिर के पीछे झुग्गी झोपड़ी बस्ती में बच्चों के साथ भाई दूज का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

यहां भाईयों को बहनों के द्वारा माथे पर तिलक करके उनकी लंबी उम्र की एवं आगामी जीवन में सफलता की कामना की गई। साथ ही साथ मानवता ग्रुप की बहनों द्वारा ग्रुप के भाईयों को तिलक किया एवं उनकी दीर्घ आयु व उन्नति की कामना भी की।

वास्तव में; यह एक ऐसा रिश्ता है, जिसे शब्दों में बयां कर पाना नामुमकिन सा है।

आज इस अवसर पर
बबलू सिन्धी, तिलक सिंह भदौरिया, प्रभात राजावत, ओम सर, दीपक चावला,
रानी जैन, पूजा मिश्रा जी, सलोनी जैन, आशा जैन, रेखा जैन, जूही जैन, आरती जैन ,हेमा जैन, आरुष जैन आदि सदस्य उपस्तिथ रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.