जैन समाचार

गुरुभगवंतो से आशीर्वाद लेकर चढ़ाई राजेन्द्र गुरु मंदिर की ध्वजा

मैसूर में हर्षोल्लास के साथ चढ़ाई राजेंद्र गुरु मंदिर की ध्वजा
मैसूर में सादगी पूर्वक मनाया राजेन्द्र गुरु मंदिर ध्वजा महोत्सव

मैसूरु : सुविधिनाथ राजेन्द्र सूरी जैन संघ के तत्वावधान में महावीर नगर राजेन्द्र सूरी मार्ग पर स्थित सुविधिनाथ राजेन्द्र गुरु मंदिर की 11 वी. ध्वजा आचार्य अजीतशेखरसूरी,आचार्य नयचंदसागरसूरीश्वर व साध्वी वृंद के सान्निध्य में चढ़ाई गई l इससे पूर्व दोनों जैनाचार्यो की ओर से ध्वजा पर वास्केप डाला गया l मोहनी देवी के शुभ आशीर्वाद से ध्वजा के लाभार्थी रिकबचंद रुपाजी क्षत्रियबोहरा परिवार रहे l कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार के रोकथाम के लिए शहर लॉकडाउन किया गया है l जिलाधीश अभिराम जी.शंकर , शहर पुलिस आयुक्त चंद्रगुप्त तथा लश्कर पुलिस थाना निरीक्षक सुरेश कुमार के निर्देशानुसार सामाजिक दूरी की पालना करते हुए सीमित भक्तो की संख्या में धार्मिक आयोजन संपन्न किया गया l

इससे पूर्व नितेश गुरु की ओर से विधिवत रूप से स्नात्र पूजा पढ़ाई गई l लाभार्थी परिवार की ओर से सुविधिनाथ व राजेन्द्र सूरी गुरु की प्रतिमा पर पक्षाल, केशर पूजा, आरती, मंगलदीप, शान्ति कलश किया गया l पुण्याम पुण्याम प्रियंतम प्रियंतम के उच्चारण के साथ भगवान सुविधिनाथ व राजेंद्र सूरी के गगनभेदी जयकारे लगाए गए l सचिव मांगीलाल गोवाणी ने  भक्तों को कोरोना वायरस के  खात्मे के लिए अपने घरों में  ज्यादा से ज्यादा सामायिक  करने व नवकार मंत्र का जाप करने तथा जीव दया हेतु कार्य करने की अपील की l इस अवसर पर माणकचंद, अशोक, महेंद्र, महावीर, विनोद क्षत्रिय बोहरा , सुविधिनाथ राजेंद्र सूरी ट्रस्ट के अध्यक्ष शांतिलाल हरण, उपाध्यक्ष अरविंद भंडारी, कोषाध्यक्ष धनेश मेहता, सुमतिनाथ जैन संघ के ट्रस्टी हंसराज पगारिया, राजेन्द्र सूरी नवयुवक मंडल अध्यक्ष प्रकाश झोटा, सचिव विक्रम हरण, कोषाध्यक्ष राकेश भंडारी,पार्श्व पद्मावती ट्रस्ट के अध्यक्ष दलीचंद श्रीश्रीमाल ,मोहनलाल जैन, गिरीश बोहरा आदि मौजूद रहे l
महामारी ने हमारे मन -मंदिर के दरवाजे खोल दिये -माणकचंद क्षत्रिय बोहरा

 माणकचंद क्षत्रिय बोहरा ने बताया कि हम इस लॉक डाउन में मंदिरों के दरवाजे बंद है लेकिन हमारे मन मंदिरों के दरवाजे खुल गए, हम परिवार से दूर हुए थे उनके साथ रहना सिख गए, ये महामारी हमे बहुत कुछ सीखा रही है, 

ये महामारी हमे सादगी में रहना सिखाती है – अशोक क्षत्रिय बोहरा
अशोक क्षत्रिय बोहरा ने बताया कि हर्ष वर्ष हम ध्वजा महोत्सव बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाते है, इस ध्वजा महोत्सव में अनैको धार्मिक कार्यक्रम होते है , लेकिन इस बार महामारी के चलते ध्वजा महोत्सव बहुत ही सादगी पूर्वक मनाया गया, क्योंकि इस समय मे सम्पूर्ण विश्व इस महामारी से झुंझ रहा है, इस समय कही पर कोई कार्यक्रम नही हो रहे है ।

राजेन्द्र गुरु धाम की महिमा निराली है : महेंद्र क्षत्रिय बोहरा
महेन्द्र क्षत्रिय बोहरा ने बताया की श्री राजेन्द्र गुरु का धाम मोहनखेड़ा आज विश्व मे नया कीर्तिमान स्थापित कर चुका है, प्रतिदिन वहां हजारों की संख्या में दर्शन के लिए भक्तगण आते है, मैसूर में इसी आस्था से श्री राजेन्द्र गुरु मंदिर का निर्माण पूज्य गुरुभगवंतो के निश्रा में किया गया था । 

गुरुभगवंतो ने वासक्षेप डालकर दी आज्ञा – महावीर क्षत्रिय बोहरा
महावीर क्षत्रिय बोहरा ने बताया कि मैसूर में विराजित पूज्य आचार्य अजित शेखर सुरीश्वर म.सा एवं आचार्य नयचंद्र सागर सुरीश्वर म. सा की निश्रा में गुरु मंदिर की 11 वी ध्वजा चढ़ाई गयी, गुरुदेव से वासक्षेप डालकर आज्ञा दी , श्री संघ के साथ मिलकर ध्वजा चढ़ाई ।

घरों के बालकनी से बजाई घंटी ओर थाली – विनोद क्षत्रिय बोहरा 
विनोद क्षत्रिय बोहरा ने बताया कि गुरु मंदिर के ध्वजा कर दौरान लोगो ने घरों की बालकनी में आकर घंटी एवं थाली बजाकर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई एवं सभी ने जयकारे लगाकर आकाश गुंजायमान किया ।

इतनी सादगी पूर्वक ध्वजा पहली बार चढ़ाई- हंसराज पागरिया
सुमतिनाथ जैन संघ के ट्रस्टी हंसराज पागरिया ने बताया कि इतनी सादगी पूर्वक ध्वजा महोत्सव का आयोजन पहली बार हुआ, महामारी ने हमे बहुत कुछ सिखाया, जो हम खर्चा ध्वजा महोत्सव में करते थे अब उसी पैसे का उपयोग गरीबो एवं जरूरतमन्दों की सहायता में करेंगे।

Related Articles

Back to top button
Close