Browsing Tag

@jainscrapers

मुनि श्री का हुआ मंगल आगमन शीतलधाम पर होगी “शीतकालीन वांचना”

अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - देश दुनिया से अशुभ कर्म टले, कोरोना महामारी से जूझ रहे सभी प्राणिओं को  स्वास्थ्य लाभ मिले और प्रकृति का

मुनि श्री का मंगल आगमन शुक्रवार को प्रातः शीतलधाम में

अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन  विदिशा(भद्दलपुर) - संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागरजी महाराज के आशीर्वाद से मुनि श्री समतासागर जी एवं ऐलक श्री

गुरुवर के नाम से शिष्य की पहचान होती है : मुनि श्री समता सागर जी महाराज

अहिंसा क्रांति / ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - संसार दिखेगा तो मौन रहुंगा लेकिन जिस दिन मुझे गुरुदेव के दर्शन हुऐ उस दिन मौन कैसे रह सकता हूं? उपरोक्त

“चैतन्य चंद्रोदय ग्रन्थ शतक ग्रन्थ की पूर्णता” के साथ मुनि संघ का विहार कल…

विदिशा(भद्दलपुर) - संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागरजी द्वारा रचित चैतन्य चंद्रोदय शतक का स्वाध्याय जो कि चातुर्मास के दौरान शीतलधाम पर दौपहर को तीन माह पूर्व

ऐसी होती है सन्तों की जीवों के प्रति करुणा।तभी कहा जाता है भारत की संस्कृति करुणा प्रधान…

अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन जबेरा। सन्तों में प्रत्येक जीव के प्रति ऐसी होती है करुणा जो आज जब आचार्य श्री उदारसागर   मुनिमहाराज जब संघ सहित जबेरा की

शीतलधाम में मुनि श्री समता सागर जी महाराज ससंघ का पिच्छिका परिवर्तन समारोह

१५ वर्ष बाद मुनि श्री १०८ समता सागर जी महाराज ससंघ व मुनि श्री निर्णय सागर जी ससंघ का मिलन अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - प्रकृतिक

सिद्धों की आराधना करके हम अपने आत्मगुणों की ही वृद्धि करते है : मुनि श्री समता सागर जी…

अहिंसा क्रांति / ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - सिद्धों की आराधना करके हम अपने आत्मगुणों की ही वृद्धि करते है, विज्ञान कितना भी आगे वड़ जाए उसे वीतराग

रत्नात्रय के मोक्ष मार्ग पर वैराग्य पूर्ण भावों से स्वाध्याय को ही ध्येय वनाकर आगे बढे :…

अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - रत्नात्रय के मोक्ष मार्ग पर वैराग्य पूर्ण भावों से स्वाध्याय को ही ध्येय वनाकर आगे वड़ें उपरोक्त उदगार

शीतलधाम विदिशा में प्रारंभ हुआ श्री १००८ सिद्धचक्र महामंडल विधान

अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - आचार्य गुरूदेव श्री विद्यासागरजी महाराज के शिष्य मुनि श्री समतासागर जी महाराज एवं ऐलक श्री निश्चयसागर जी

अच्छे विचारों में आपका मन यदि लग जाऐ तो आपके जीवन की दिशा और दशा दौनों वदल जाती है : मुनि…

अहिंसा क्रांति / ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - मन विचारों का केन्द्र है, अच्छे विचार भी उठते है, और वुरे विचार भी आते है, अच्छे विचारों में आपका मन