साध्वी समुदाय के मिलन के संगम का अद्भुभुत दृश्य देख श्रावक हुए भावविभोर

0

अहिंसाक्रान्ति हैदराबाद चीफ ब्यूरो राजेन्द्र बोथरा

साध्वी समुदाय के संगम का अद्भुभुत दृश्य देख श्रावक हुए भावविभोर

13-06-2021- महातपस्वी आचार्य श्री महाश्रमण जी के ऐतिहासिक चातुर्मास के पश्चात चार सिंघाडो के चातुर्मास की घोषणा हैदराबाद वासियो के लिए आहलाद दायी है। आचार्य श्री की सुशिष्यागण शासनश्री साध्वीश्री जिनरेखाजी, साध्वीश्री निर्वाणश्री जी, साध्वीश्री मधुस्मिता जी एवं साध्वीश्री काव्यलता जी का आध्यात्मिक मिलन देख जनता भाव विभोर हो गई। साध्वी श्री मधुस्मिताजी आदि ठाणा 5 की आगवानी में साध्वी काव्यलता जी, साध्वी योगक्षेमप्रभा जी, साध्वी श्वेतप्रभा जी, साध्वी लावण्यप्रभा जी आदि दस साध्विया काफी दूर पहुंच गई। जहां गीतों की मधुर स्वर लहरियों से राहें गुलजार हो गई। डी वी कॉलोनी भवन आगमन पर भवन के मुख्य द्वार पर शासनश्री साध्वीश्री जिनरेखा जी व साध्वीश्री निर्वाणश्री जी के नेतृत्व में साध्वियों ने समागत साध्वीगण का मधुर स्वरों में मीठे उपालंभ के साथ स्वागत किया। श्रावक समाज भी इस अवसर पर प्रमोद भाव की सरिता में निमज्जन कर आहलादित था।
भावों की अभिव्यक्ति के क्रम में शासनश्री जिनरेखाजी, साध्वीश्री निर्वाणश्री व साध्वीश्री काव्यलता जी ने अतीत के मीठे सस्मरणो को बांटते हुए नवांगतुक सिंघाड़े का भाव भरा स्वागत किया। विदुषी साध्वीश्री निर्वाणश्री जी ने समागत साध्वीश्री मधुस्मिता जी को भावोपहार अपह्रत किया । जिसे तीनों मेजबान साध्वियों ने उन्हें प्रदान किया। समागत साध्वियों द्वारा भी तीनों अग्रणी साध्वीश्री को भावभरी सौगात अर्पित की गई, जिसे हैदराबाद से संबंध साध्वी सहजयशा जी ने तैयार कर भक्ति का परिचय दिया। साध्वी सहजयशा जी ने अपनी अग्रणी सहित चारों साध्वियों की भक्ति करते हुए भेंट समर्पित की तो स्वयं भी पुरस्कृत हुई।
दोनो ओर से बजने वाली सुर सरगम की मीठी तान ने सबके मन मोह लिये। विभिन्न रागीनियो में गुम्फित गीतों में संघ भक्ति, गुरु भक्ति व साधार्मिक भक्ति की त्रिवेणी प्रवहमान थी। इस अवसर पर तेरापंथी सभा सिकन्दराबाद के अध्यक्ष सुरेश सुराणा, मंत्री सुशील संचेती, महिला मंडल अध्यक्ष प्रेम पारख, तेयुप अध्यक्ष राहुल श्यामसुखा, प्रोफेसनल फोरम अध्यक्ष मोहित बैद, अणुव्रत समिति अध्यक्ष प्रकाश भंडारी, बोलाराम से रतन सुराणा, बोवनपल्ली से सतीश दुगड़, वेलफेयर सोसायटी से बाबूलाल जी बैद आदि ने आज के अभिनंदनीय क्षणों का स्वागत किया। मंच संचालन में प्रबुद्ध साध्वीश्री डॉ योगक्षेमप्रभा जी ने नया शमा बांध दिया। जिसका पूरी परिषद ने ‘ॐ अर्हम्’ की ध्वनि से स्वागत किया। कार्यक्रम अत्यंत भव्यता, नव्यता व शालीनता के साथ परिसम्पन्न हुआ।
प्रेषक: राजेन्द्र बोथरा

Leave A Reply

Your email address will not be published.