जैन समाचार

जैन आचार्य भगवन्तो की सेवा में पहुचा मैसूर जैन संघ

मैसूर। मैसूरु मे सुमतिनाथ जैन श्वेतांबर मूर्ति पूजक संघ का एक शिष्टमंडल नजरबाद स्थित आदेश्वर वाटिका में पहुँचा,  वहाँ पर विराजित आचार्य अजीतशेखरसूरी आदि ठाणा 13 तथा आचार्य नयचंद्रसागर सूरीश्वर आदि ठाणा 8 के दर्शन वंदन कर आशीर्वाद प्राप्त किया गया तथा  तपस्या की सुखसाता पुछ कर धर्म चर्चा की गई l इस अवसर पर सुमतिनाथ जैन श्वेतांबर मूर्तिपूजक संघ के अध्यक्ष अशोक दाँतेवाड़ीया, सचिव भैरुमल राठोड़, कोषाध्यक्ष मंगलचंद पोरवाल, ट्रस्टी हंसराज पगारिया, आदिनाथ जैनआज्ञा ट्रस्ट के प्रवीण दाँतेवाड़ीया, महावीर जिनालय ट्रस्ट के अध्यक्ष कांतिलाल चौहान, सुमतिनाथ जैन नवयुवक मंडल अध्यक्ष प्रवीण लुंकड़, सचिव अमित दाँतेवाड़ीया, पार्श्व पद्मावती ट्रस्ट के अध्यक्ष दलीचंद श्रीश्रीमाल, सदस्य महावीर भंसाली आदि मौजूद रहे,  अंत में जैनाचार्यो द्वारा श्रावक व श्राविकाओ से कोरोना वायरस के खात्मे के लिए अपने घरो में ही धर्म ध्यान करने का उपदेश दिया गया । 


आचार्य अजितशेखर सुरीश्वर म.सा ने कहा कि कोरोना में जितना ध्यान श्रावकों को रखना है उससे ज्यादा साधु संतों को भी ध्यान रखना होगा , क्योकि अगर किसी भी साधु – साध्वी को अगर कोरोना हो गया तो अस्तपाल में कपड़े हमारे साधु वेश के नही पहनने देगे ओर ना ही हमे गोचरी की व्यवस्था होगी, जो अस्तपाल द्वारा दिया जाएगा वही खाना पड़ेगा जो साधु-साध्वी को कतई मंजूर नही होगा, इसलिए विशेष रूप से साधु साध्वी इस महामारी में ध्यान रखे, 


भेरूमल राठौड़ ने बताया कि जैन साधु साध्वीजी भगवन्त की वैयावच्च के लिए मैसूर जैन संघ 24 घंटे तैयार है, किसी भी वस्तु की जरूरत होती तो तुरंत उसकी व्यवस्था की जाती है, क्योंकि हम तो घरो में है लेकिन साधु – साध्वीजी उपाश्रय में रुके है, उनकी वैयावच्च करना हमारा पहला फर्ज है । 
हंसराज पागरिया ने बताया की मैसूर में अगर किसी भी साधर्मिक भाई को राशन सामग्री या किसी वस्तु की जरूरत होती है तो हम सदैव तैयार रहते है, हमारे कुछ जैन भाई शर्म के मारे बोल नही पाते लेकिन में उनसे निवेदन करता हु उनको अगर किसी भी चीज की जरूरत हो तो वो बिना शर्म के हमसे संपर्क कर सकते है, हम उनकी सहायता की पूरी कोशिश करेंगे ।

Related Articles

Back to top button
Close