जैन समाचार

ज्ञानमती माताजी ने बच्चों को दिए लिपि संस्कार :

AHINSA KRANTI NEWS


फ़िरोज़ाबाद, आज भगवान महावीर के ज्ञान कल्याणक के अवसर पर पूज्य गणिनी प्रमुख आर्यिका श्री ज्ञानमती माताजी ने आज प्रातः बच्चों को लिपि संस्कार दिए I
आज बैसाख शुक्ल पक्ष के एकादशी तिथि को पूरे भारत वर्ष मे 24 वें तीर्थंकर भगवान महावीर का ज्ञान कल्याणक महोत्सव मनाया जाता है I चुंकि आज भारत मे covid19 महामारी का प्रकोप चल रहा है तथा समस्त देश के मंदिर भी बंद हैं. अतः पूज्य गणिनी प्रमुख आर्यिका ज्ञान मती माताजी ससंघ ने इस महोत्सव पर समस्त भारत वर्ष के बच्चों को टी. वी. के माध्यम से अपने अपने घरों मे ही लिपि संस्कार दिए I

इस अवसर पर जिन भक्तों ने अपने अपने बच्चों को प्रातः ही तैयार करके टी. वी. के सामने बैठा दिया था. बता दें की माताजी अभी हस्तिनापुर जम्बूद्वीप मे विराजमान हैं I और वहीँ से उन्होंने मंत्रोच्चारण करते हुए बच्चों से कॉपी पर पेंसिल से हिंदी वर्णमाला आदि लिखवाई I तथा अक्षत पुष्प लेकर पूजा पाठ कराया. उन्होंने बताया की बच्चों मे लिपि संस्कार की व्यवस्था जैन दर्शन मे आदिकाल से है I उस समय ज़ब बच्चा पहली बार गुरुकुल जाता था तब वहां के गुरु बच्चों मे अनेकों धार्मिक संस्कार के साथ लिपि संस्कार भी देते थे I जिसको आज के समय माता पिता एवं गुरु भूल चुके हैं I बच्चों मे लिपि संस्कार से ही श्रुति ज्ञान की प्राप्ति होती है I भगवान महावीर को भी आज के दिन ही श्रुति ज्ञान से ही केवलयज्ञान की प्राप्ति हुई थी I इसलिए आज के दिन यह महोत्सव मनाया जाता है I  वैसे तो समस्त भारत वर्ष मे यह महोत्सव मनाया गया I  अपने नगर मे भी संजय जैन (पी. आर. ओ. ), रोमन जैन, शैलेन्द्र जैन, दीपक जैन (अत्तार ), मनोज जैन ( दद्दा ), प्रिंस जैन, सुविधि जैन, अरुण जैन (पीली कोठी ), विशाल जैन, धर्मेन्द्र जैन (रोकी ) आदि अनेकों जिनभक्तों ने अपने अपने बच्चों को संस्कार दिए I

Related Articles

Back to top button
Close