देश की बात फाउंडेशन की पत्रकार वार्ता आज, कल रोजगार संवाद होगा

0

आहिंसा क्रांति ब्यूरो चीफ अमित जैन बारां, 10 नवंबर। देश की बात फॉउंडेशन के रीजनल कोर्डिनेटर गिरिराज मीणा ने बताया कि देश की बात फाउंडेशन’ जो एक वैचारिक संगठन है और ‘सकारात्मक राष्ट्रवाद’ की विचारधारा पर राष्ट्रनिर्माण के लिए काम कर रहा है। सकारात्मक राष्ट्रवाद का मानना है, ’बेरोज़गारी की समस्या का समाधान – ‘राष्ट्रीय रोज़गार नीति’ है।’ ‘सकारात्मक राष्ट्रवाद’ के अनुसार  रोज़गार सिर्फ़ आर्थिक मसला नहीं है, बल्कि राष्ट्रनिर्माण में सबकी हिस्सेदारी का भी मसला है। रोज़गार के ज़रिए ना सिर्फ भौतिक जरूरतें जैसे रोटी, कपड़ा, मकान की जरूरत पूरी होती है बल्कि राष्ट्रनिर्माण में भागीदारी के ज़रिए आत्म-संतुष्टि व आत्मसम्मान भी पूरा होता है।
देश की बात फाउंडेशन के ’ज़ोन 5 के कॉर्डिनेटर भरत यादव’ ने बताया कि देश की बात फॉउंडेशन पूरे देश में ’रोजगार संवाद’ कर रहा है। ’इसके तहत राजस्थान में देश की बात फाउंडेशन 7 नवंबर को जयपुर में कर चुका है तथा 12 नवंबर को बारां में, 14 नवंबर को उदयपुर में और 21 नवंबर को श्री गंगानगर में रोजगार संवाद अलग अलग जगह में किया जाएगा।
देश की बात फाउंडेशन की ओर से 11 नवंबर को दोपहर 2.30 बजे प्रेस वार्ता का कार्यक्रम रखा गया है। रोजगार संवाद राज प्रमोद लॉज, दीन दयाल पार्क पर किया जाएगा। जिसमें दिल्ली से देश की बात फाउंडेशन के ’सेंट्रल कोर्डिनेटर एडवोकेट राजेन्द्र शर्मा मौजूद रहेंगे। मीणा ने बताया कि अगले दिन 12 नवंबर को रोजगार संवाद राज प्रमोद लॉज, दीन दयाल पार्क पर किया जाएगा। जिसमें फाउंडेशन के सदस्यों के अलावा सकारात्मक राष्ट्रवाद की समान विचारधारा वाले विश्वविद्यालय के छात्र -छात्राओं तथा सभी छात्र संगठन, युवा संगठन, अध्यापक संगठन, मजदूर संगठन, व्यापारी संगठन, महिला संगठन, किसान संगठन, एनजीओ, आरडब्ल्यूए एवं अन्य संगठन के प्रतिनिधि भी शामिल हो रहे है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.