चातुर्मास 2020 CHATURMAS 2020चातुर्मास की खबरे एवं जानकारीजैन समाचार

आचार्य महाराज का भाण्डवपुर तीर्थ में होगा चातुर्मास

भाण्डवपुर महातीर्थ में सिंहद्वार का आचार्य जयरत्नसुरीश्वर महाराज की निश्रा में हुआ शिलान्यास

AHINSA KRANTI NEWS


भाण्डवपुर। अतिप्राचीन भाण्डवपुर महातीर्थ में आचार्य जयरत्नसुरीश्वर महाराज की निश्रा में मुख्य प्रवेश द्वार सिंहद्वार का शिलान्यास किया गया।शिलान्यास गुरुभक्तों के हाथों वैदिक मंत्रोच्चार के साथ किया गया।इस मौके आचार्य जयरत्नसुरीश्वर महाराज आदि ठाणा व साध्वी सूर्यकिरणा श्री एवं साध्वी काव्यरत्ना श्री का इस साल का चातुर्मास भाण्डवपुर महातीर्थ में करने की घोषणा की। चातुर्मास प्रवेश 2 जुलाई को होगा। तीर्थ के मुख्य प्रवेश द्वार (सिंहद्वार) के शिलान्यास के प्रसंग पर आए हुए समीपवर्ती गुरुभक्तों के हाथों से विधिवत् मदनलाल श्रीमाली ने मंत्रोच्चारण पूर्वक शिलान्यास करवाया।  आचार्य जयरत्नसूरीश्वर महाराज एवं उपस्थित श्रमणिवृन्द ने वासक्षेप किया।

शिलान्यास विधि सुसम्पन्न होने के पश्चात् सभा को संबोधित करते हुए जैनाचार्य  जयरत्नसूरीश्वरजी महाराज ने कहा की इस वर्ष चतुर्मास करने के लिए पादरु, सियाणा, सायला एवं सांचोर के गुरुभक्तों ने आग्रह पूर्व विनंती की परंतु वर्तमानकालीन कोरोनावायरस की विभीषिका को देखते हुए एवं आत्मिक साधना के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए भाण्डवपुर तीर्थ में साधु-साध्वीजी सहित चतुर्मास करने की घोषणा की। इस संबंध में गच्छाधिपति  नित्यसेनसूरीश्वर  महाराज द्वारा तीर्थ विकास के साथ पुण्यसम्राट व योगिराज की पुण्यभूमि में पुनः सूरिमंत्र पीठिका की आराधना सानन्द सुसम्पन्न होने की मंगल भावना व्यक्त की, जिसे पढ़कर सुनाया गया। आत्म-मनोबल को परिपुष्ट करने के लिए इसवर्ष भी चतुर्मास के 90 दिनों तक पीठिका की आराधना करने की घोषणा भी की। यह चतुर्मास सामूहिक रुप से होगा। शेष आयोजनों की रूपरेखा कोरोना के कारण प्रशासन की छूट के आधार पर निर्धारित किए जाएंगे।

Related Articles

Back to top button
Close