Take a fresh look at your lifestyle.
Browsing Category

Uncategorised

जैन दर्शन में हर आत्मा को परमात्मा वनने का अधिकार दिया गया है-मुनि श्री समता सागर जी महाराज

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर)-"धर्म वही है जो प्रत्येक प्राणी की सत्ता को स्वीकारे जैन धर्म के सिद्धांतों में अहिंसा को प्रमुख स्थान दिया गया है।

धर्म के क्षेत्र में वोया गया वीज कभी असफल नहीं होता -मुनि श्री समता सागर जी महाराज

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - "धर्म के क्षेत्र में वोया गया वीज कभी असफल नहीं होता वह युवा अवस्था से वृद्धावस्था तक संस्कारों को वनाऐ रखता है।

यदि समाज में साधु न हों तो संस्कारों का वीजारोपड़ कौन करेगा? – मुनि श्री समता सागर जी महाराज

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - "वर्षा न हो तो किसानी नही हो सकती और किसानी न हो तो अनाज कंहा से आऐगा? उपरोक्त उदगार मुनि श्री समता सागर जी महाराज ने

विदिशा(भद्दलपुर) नगर स्थित शीतलधाम में हुई मुनि श्री का 38 वाँ चातुर्मास कलश की स्थापना

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - मुनि श्री समतासागर जी एवं ऐलक श्री निश्चयसागर जी महाराज का 38 वां चातुर्मास कलश की स्थापना समारोह  शीतलधाम पर मनाया

विचारधाराओं में अंतर हो सकता है लेकिन विपक्ष को अपना दुश्मन न मानें-मुनि श्री समता सागर जी महाराज

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - विचारधाराओं में अंतर हो सकता है लेकिन विपक्ष को अपना दुश्मन न मानें उपरोक्त उदगार मुनि श्री समता सागर जी महाराज ने आज

विदिशा(भद्दलपुर) शीतलधाम में हुई मुनि श्री की चातुर्मास स्थापना

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर)- संत शिरोमणी आचार्य श्री विद्यासागरजी महाराज के परम प्रभावक शिष्य वात्सल्य मूर्ती मुनि श्री समता सागर जी महाराज एवं ऐलक

वैभव का महत्व नही है, महत्व है त्याग का-मुनि श्री समता सागर जी महाराज

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर)- "पुण्य के योग से धन का अर्जन होता है, वह धन यदि अच्छे कार्योँ में लग जाऐ तो वह पुण्य का योग माना जाता है, धन है तो वह

आध्यात्मिक शक्ति से ही कोरोनावायरस को पराजित किया जा सकता है : राष्ट्रसंत कमलमुनि कमलेश

AHINSA KRANTI NEWS जोधपुर 4 जुलाई 2020 महावीर भवन नेहरू पार्कमानव सोचता क्या है कहता क्या है और करता क्या है तीनों की भिन्नता ही अपने आप में अधर्म और पाप है उक्त विचार

कार्य कोई भी छोटा या वड़ा नहीं होता उसकी उचित संयोजना होंना चाहिए – मुनि श्री समता सागर जी…

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा(भद्दलपुर) - "हिन्दी वर्णमाला का ऐसा कोई अक्षर नही, जिसमें मंत्र वनने की शक्ति न हो" उसी प्रकार ऐसी कोई वनस्पति या पत्ती या जड़

जैन सोशल ग्रुप द्वारा डॉक्टरों के सम्मान

मध्यप्रदेश अहिंसा क्रांति /ब्यूरो चीफ देवांश जैन विदिशा - डॉक्टर डे पर जैन  सोशल परिवार  प्रत्येक वर्ष की भांति 1 जुलाई  को  सभी डॉक्टरों का हार्दिक अभिनंदन करते हैं लॉकडाउन के चलते एवं