जैन आयोजन

भारत भर के सभी वर्षीतप आराधकों का घर बैठे किया जाएगा अभिनन्दन


सभी तपस्वी रत्नों को ऑनलाइन दिया जाएगा अभिनंदन पत्र 

जोधपुर। इस बार लॉक डाउन में हम कैसे वर्षीतप आराधकों (तपस्वियों) का अभिनंन्द करे, इसी को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ रत्न शिरोमणि महत्तरा पद विभूषिता परम पूज्य मनोहर श्रीजी म. सा की सुशिष्या नवकार जपेश्वरी साध्वी श्री शुभंकरा श्रीजी म.सा की सुशिष्या साध्वी श्री धर्मोदया श्रीजी म.सा एवं साध्वी श्री पुण्यधरा श्रीजी म.सा की प्रेरणा से भारत सरकार से मान्यता प्राप्त अहिंसा क्रांति समाचार द्वारा सकल जैन समाज के वर्षीतप आराधकों (तपस्वियों ) का ऑनलाईन अभिनन्दन किया जा रहा है, सभी तपस्वी रत्नों को ऑनलाइन  अभिनदंन पत्र दिया जाएगा एवं साथ ही उनके सुख साता की मंगल कामना करेंगे, आपके परिवार में वर्षीतप आराधक है तो उनकी पासपोर्ट फ़ोटो, हिंदी में टाइप करके उनका पूरा नाम, सिटी के साथ अहिंसा क्रांति समाचार पत्र के नंबर 8718831120 पर व्हाट्सएप करे एवं वर्षीतप के आराधक के परिवार के सदस्य ही भेजें ओर भेजने वाले अपना नाम और सिटी लिखकर अवश्य भेजे,

वर्षीतप के आरधको के नाम और फ़ोटो भेजने की अंतिम तारीख 26 अप्रेल 2020 है, उसके पश्चात स्वीकार नही किये जायेंगे, विशेष निवेदन है कि कोई भी नंबर पर फोन नही करे, सम्पूर्ण जानकारी के साथ व्हाट्सएप ही करे, और अभिनंदन पत्र भेजने में विलंभ हो सकता है लेकिन अभिनंदन पत्र सभी तपस्वियों को दिया जाएगा। इस ऑनलाइन अभिनन्दन में अहिंसा क्रांति दैनिक के प्रधान संपादक मुकेश नाहर, कार्यकारी संपादक अभिषेक जैन, जिनशासन संदेश समाचार पत्र के संपादक मधुर गायिका श्रद्धा नाहर (जोधपुर), नवनीत जी चंचल श्रीश्रीमाल (दुर्ग छत्तीसगढ़), जितेंद्र कुमार लोढ़ा स्व. प्रेमचंद जी लोढ़ा (रायपुर छत्तीगसढ़) ,  राजेन्द्र जी सायला राजस्थान (ओरिएंट मेडिकल स्टोर), बी. हंसराज जी पगारिया (मैसूर कर्नाटक) , दलीचंद जी श्रीश्रीमाल (मैसूर कर्नाटक),  अपित जैन ( भोपाल) आदि इस अभिनदंन  के विशेष सहयोगी है ।

Related Articles

Back to top button
Close