चातुर्मास 2020 CHATURMAS 2020चातुर्मास की खबरे एवं जानकारीजैन समाचार

आचार्य भव्यदर्शनसुरीश्वर म.सा आदि ठाणा 2 का 2020 चातुर्मास मैसूर में घोषित, सकल जैन संघ में हर्ष

आचार्य श्री ने मैसूर संघ पर बरसाई महती कृपा – अशोक दाँतेवाड़ीया


मैसूरु : सुमतिनाथ जैन श्वेतांबर मूर्ति पूजक संघ का एक शिष्टमंडल बैंगलुरू स्थित सुशील धाम पहुँच कर आचार्य भव्यदर्शन सूरीश्वर आदि ठाणा 2, साध्वी भद्रकाश्री आदि ठाणा 4, तथा उज्ज्वल ज्योतश्री आदि ठाणा 2 के दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया गया । पश्चात सुमतिनाथ जैन श्वेतांबर मूर्ति पूजक संघ  की ओर से आचार्य से आगामी चातुर्मास मैसूरु मे स्थित महावीर भवन में करने की विनती की गई । जिस पर आचार्य ने संघ को आगामी चातुर्मास मैसूरु मे करने की विजय मुहूर्त मे स्वीकृति प्रदान की गई । संघ मे खुशी का माहौल छा गया।  इस अवसर पर सुमतिनाथ जैन श्वेतांबर मूर्ति पूजक संघ के अध्यक्ष अशोक दाँतेवाड़ीया, ट्रस्टी हंसराज पगारिया, मांगीलाल गौवाणी, विमल भैसवाड़ा,मांगीलाल पोरवाल, व्यावच्छ समिति के दलीचंद श्रीश्रीमाल,ललित राठोड़, संजय चौहान, अमित राठोड़, महावीर भंसाली, संदीप जैन, सुरेन्द्र गुरुजी सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे । 


अशोक दाँतेवाड़ीया ने कहा कि आचार्य श्री का चातुर्मास मिलते ही पूरे संघ में हर्ष की लहर छा गयी, आज आचार्य श्री ने पूरे मैसूर जैन संघ पर जो कृपा बरसाई एवं चातुर्मास करने स्वकृति दी उसके लिए गुरुदेव के चरणों मे हम नट मस्तक है, आज इस कोरोना काल मे महामारी के बीच में भी हम मैसूर जैन संघ पर आशीर्वाद दिया एवं इसका लाभ पूरे मैसूर जैन संघ को मिलेगा, गुरुदेव का सरल एवं सहज स्वभाव से विनती स्वीकारते हुए मंद मंद मुस्कुराते हुए इशारा किया तो सभी के चेहरे पर एक अलग ही मुस्कान थी। व्यावच्छ समिति के दलीचंद श्रीश्रीमाल ने बताया कि गुरुदेव की घोषणा होते ही हमारा पहला कर्त्वय गुरुदेव को बैंगलोर से मैसूर की और विहार करवाने की सुविधा को लेकर है, कोरोना महामारी में किसी प्रकार से गुरुदेव के व्यावच्छ में तकलीफ ना आये इसका विशेष ध्यान रखेंगे एवं किसी भी प्रकार कोई भी परेशानी नही आने देंगे। महावीर भंसाली ने कहा कि जैसे गुरुदेव ने विनती स्वीकार की तो फोन पर मैसूर में ये खबर पहुंची तो सभी ने गुरुदेव के जयकारे लगाकर आकाश को गुंजायमान कर दिया, सभी ने मैसूर से ही गुरुदेव को वंदन किया।

Related Articles

Back to top button
Close