breaking news मुख्य समाचारJain Newsजैन प्रवचन, जैन धर्म, जैन ज्ञानजैन साधू, जैन मुनि, जैन साध्वी

निमाज की हवेली महावीर भवन में खेल खेल में सीखे प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

अहिंसा क्रांति


जोधपुर । 29 सितम्बर महावीर भवन -निमाज की हवेली में महाश्रमणी श्री पुष्पवती जी म. सा.के सान्निध्य में युवाचार्य श्री महेंद्र ऋषि जी म. सा. के 53वें जन्मदिवस एवं        उपप्रवर्तिनी श्री राजमती जी म. सा. के 61वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में पंच दिवसीय आयोजन के अंतर्गत आज दूसरे दिन भावी कर्णधारों के लिए ` खेल -खेल  में सीखें प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें 5 से 12 वर्ष तक के बालक -बालिकाओं ने भाग लिया l धर्म सभा को सम्बोधित करते हुए उपप्रवर्तिनी श्री राजमती जी म. सा. ने फरमाया -साधना का सम्पूर्ण मार्ग जिनवचन आधारित है l जिनवचन ना हों तो साधना का मार्ग सुलभ नहीं है l सर्वज्ञ के वचनों के बिना आत्म विकास नहीं हों सकता l सदगुरुदेव के माध्यम से जिन वाणी सुनकर अपनी सोच को सकारात्मक बनाने का प्रयास करें l साध्वी डॉक्टर राज रश्मि जी म. सा. ने फरमाया -अपनी काया के प्रति ममत्व का त्याग करके आत्म भावों में रमण करना कायोत्सर्ग है l

इसके लिये शरीर और आत्मा का भेद विज्ञान समझना जरूरी है l ` मैं और मेरा `इस भावना का भी त्याग करना, कषायों का त्याग करना चाहिए l मन वचन, काया के योगों को साध कर ध्यान करने से कर्म  निर्जरा संभव है l साध्वी डॉक्टर राज ऋद्धि जी ने फरमाया -कर्मवश किसी पूज्य के द्वारा अपने आप पर अपकार भी हो जाये तो भी उनके प्रति आदरभाव को जीवित रखना भी एक प्रकार की पूजा है l साध्वी श्री राज वृद्धि जी ने भी संगीत के माध्यम से सभी को भाव विभोर कर दिया l संघ महामन्त्री सुनील चोपड़ा ने कहा 30/9/2019 सेवा दिवस के रूप में मनाया जायेगा l श्रमण संघ के भावी अनुशास्ता के गुणानुवाद किये जायेंगे एवं दोपहर 12 बजे सेवा भारती संस्था में  संघ द्वारा सेवा लाभ लिया जायेगा l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close