breaking news मुख्य समाचारJain Newsजैन धर्म के कार्यक्रमजैन मंदिर

दौसा में आठ दिनों से चल रहे सिद्धचक्र महामण्डल विधान का गुरूवार को हुआ विधिवत् समापन

अहिंसा क्रांति अखबार

दौसा । अष्टानिका पर्व के उपलक्ष्य में आदिनाथ जैन मंदिर में पिछले आठ दिनों से चल रहे सिद्धचक्र महामण्डल विधान का गुरूवार को विधिवत् समापन हो गया। जैन समाज के प्रवक्ता प्रतीक जैन ने बताया कि इस अवसर पर प्रातःकालीन कार्यक्रम की शुरूआत अभिषेक, शान्तिधारा व परिमार्जन से शुरू हुई। इसके बाद सिद्धचक्र महामण्डल विधान प्रारम्भ हुआ। विधान पूजन में 1024 अघ्र्य चढाये गये। इस अवसर पर विश्व शान्ति महायज्ञ हुआ। जिसमें सैंकडो जैन समुदाय के लोगों ने भाग लिया। हवन में सुगन्धित चन्दन, लौ बाण, नारियल व देशी घी की आहूति दी गई जिससे मंदिर परिसर सुगन्धित हो गया। इस अवसर पर महाआरती का आयोजन भी हुआ। जिसमें श्रद्धालुओं ने जमकर भक्ति की।

इसके बाद विधान में रखे गये मंगल कलश को लेकर सम्पूर्ण जैन समाज के लोग गाजे बाजे के साथ सौभाग्यशाली परिवार कुशल कुमार जैन बांदीकुई वालों के यहाॅं पहुंचे जहाॅं पंडित सुरेश जी शास्त्री ने पूर्ण मंत्रोच्चार व विधि विधान पूर्वक मंगल कलश की स्थापना की। इस दौरान खण्डेलवाल समाज के लोगों द्वारा जुलूस का पुष्प वर्षा कर व जलपान द्वारा स्वागत किया गया।

इससे पूर्व बुधवार की रात्रि को मंदिर परिसर में मैना सुन्दरी जैन नाटिका का मंचन किया गया। जिसमें मनीषा, प्रियंका, लतिका, सोफिया, सोनू, मंजू, कुसुम आदि ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन मीनाक्षी व मोनिका ने किया। सभी प्रतिभागियों को जैन समाज द्वारा पारितोषिक प्रदान किया गया। इस दौरान जैन समाज के अध्यक्ष महावीर जैन सिकन्दरा, महामंत्री प्रवीण जैन नेतावाला, ताराचंद जैन चांदराना, बाबूलाल जैन, विमल चांदराना आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!
Close