गांधीनगर में श्री 105 शुभमति माताजी के कर कमलो से तलोद के मां-बेटी ने ली  दीक्षा 

- Advertisement -

अहिंसा क्रांति न्यूज़ / अनंत शाह


गांधीनगर। जीवन में असंख्य रिश्ते देखे होंगे पर मा बेटी का रिश्ता बहुत निराला होता है  जब एक बार बेटी विदा हो जाती है फिर ना जाने कितने जन्म लेने के बाद दोनो के साथ मिलन होता है परंतु आज एक अद्भुत नजारा मा ऑर बेटी संयम aके पंथ पर  दीक्षा लेकर  साथ हो गए गुजरात  की राजधानी गांधीनगर मैं श्री 1008 महावीर स्वामी दिगंबर जैन मंदिर मैं गणिनी 105 आर्यिकारत्न शुभमती माताजी के हाथो से  दीक्षा समारोह हुआ ऑर  धीरज बेन मणिलाल शाह तलोद निवासी और अरूणाबेन हसमुखलाल शाह धारीषण- तलोद निवासी  रविवार के दिन दीक्षा लेकर संयम के पंथ पर चले ऑर क्षुल्लिका बन गए  गुजरात वासियों के लिए बहुत ही सौभाग्य की बात है अब गुजराती भी संयम के पंथ पर आगे बढ़ रहे है भव्य जैन दीक्षा से समाज में उत्साह का माहौल था पर समय को देखते हुए यह प्रोग्राम बहुत ही प्रशासन के नियमो को ध्यान में रखकर किया गया पूज्य गणिनी आर्यिकारत्न शुभमति माताजी के कर कमलों से हुई दीक्षा के बाद नाम रखा गया क्षुल्लिका सुपवित्रमति माताजी ऑर  सुपावनमति माताजी बने ऑर माताजी ने सबको आशीर्वाद दिया इसी तरह अच्छे माहौल में दीक्षा संपन हुए

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.