जैन समाचार

आचार्य गुणोदयसागर सूरिजी के देवलोकगमन पर दी श्रद्धांजलि

AHINSA  KRANTI NEWS

बाड़मेर, 01 अगस्त 2020। परम पूज्य अचलगच्छाधिपति श्री गुणोदयसागर सूरिश्वरजी म.सा. का कच्छ भद्रेश्वर में देवलोकगमन होने पर शनिवार को स्थानीय आराधना भवन में श्रद्धांजलि व गुणानुवाद सभा का आयोजन किया गया।
श्री जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ संघ चातुर्मास व्यवस्था समिति के अध्यक्ष प्रकाशचंद संखलेचा व जिनशासन विहार ग्रुप अध्यक्ष सुनिल छाजेड़ ने बताया कि आराधना में शनिवार को प्रातः 9 बजे साध्वी श्री सौम्यगुणाश्रीजी म.सा. की निश्रा में गुणानुवाद सभा का आयोजन किया गया। रम पूज्य आचार्य भगवन्त गुरूदेव श्री गुणोदयसगार सूरिश्वर मसा का 92 वर्ष की उम्र में देवलोक हो गया ।

 

 

 

 

साध्वी सौम्यगुणाश्रीजी ने आचार्य भगवंत के गुणों का वर्णन करते हुए कहा कि  गुरूदेव ने 89 वर्ष की उम्र मंें भी लगातार 54 वर्षीतप की आराधना की । जो अपने आप में ऐतिहासिक है। उनके देवलोकगमन से जिनशासन को अपूर्णनीय क्षति हुई है। श्री जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ चातुर्मास समिति के पदाधिकारीगण व सदस्यगण तथा जिनशासन विहार सेवा ग्रुप के सदस्यों द्वारा आचार्य श्री के चित्र के समक्ष पुष्प अपर्ण कर श्रद्धांजलि दी गई तथा अपने हृदय की संवेदना की प्रस्तुति दी।
इस कार्यक्रम में भूरचंद तातेड़, संजय छाजेड़, संजय लूणिया, सुनिल छाजेड़, राजू लूणिया, भरत संखलेचा, मोहित लूणिया, उदय गुरूजी, सवाई, सुमेर, दीपक बोहरा, राहुल छाजेड़, हर्ष संखेलचा, दिवेश मेहता, दीपक बोथरा, कुणाल बोथरा, अंकित मालू, ललित मालू उपस्थित रहे।  सम्पूर्ण कार्यक्रम में सोश्यल डिस्टेंसिंग की पालन के साथ सम्पन्न हुआ।

Related Articles

Back to top button
Close