जैन गुरुजैन प्रवचन jain pravchanजैन समाचार

आत्मा अभय बन सकती नवाकर मंत्र के जाप करने से प्रवर्तक सुकनमुनि

AHINSA KRANTI NEWS


6 जुलाई सोमवार   जिसके अंदर नवाकर है संसार मे उसका अहित नहीं हो सकता है प्रवर्तक सुकनमुनि मुनि ने अहिंसा भवन मे  सोमवार को नवाकर महामंत्र के जाप के दौरान धर्म चर्चा करते हुये कहां कि  नमस्कार महामंत्र में आत्मिक सुख के साथ भौतिक सुख भी देने की अपार शक्ति है। … उन्होंने कहा कि नमस्कार महामंत्र की आराधना सिर्फ कर्मो को ही नहीं तोड़ती बल्कि इसके साथ दुखों, कष्टों, पापो व जन्म-मरण आदि की परंपराओं को ही नष्ट कर देती है।

नवकार के प्रति श्रद्वा व समर्पण से आत्मा अभय बन जाती है। तपस्वी मुकेश मुनि  हरीश.मुनि ,सचिन मुनि आदि संतों ने  नवाकर महामंत्र जाप उपस्थिति रहीं संघ के मंत्री रिखबचन्द पीपाड़ा ने जानकारी देतें हुये कहां की नवाकर महामंत्र के जाप के दौरान सोशल डिस्टेंस के अर्तगत मास्क लगाकर किया जा रहा है जो प्रतिदिन 9 बजे होगा   जिसमे  कुछ देर किये सुकनमुनि आदि मुनिराज धर्मचर्चा भी करेगें ! 

Related Articles

Back to top button
Close