चातुर्मास 2020 CHATURMAS 2020चातुर्मास की खबरे एवं जानकारीजैन समाचार

साध्वी श्री भव्यगुणा श्रीजी आदि ठाणा 2 का फ्रेजर टाउन में हुआ चातुर्मासिक मंगल प्रवेश

अहिंसा क्रांति न्यूज़ 29 जून 2020


बैंगलोर। प. पू.कोंकण केशरी  राष्ट्रसंत आचार्य देव श्रीमद् विजय *लेखेंद्र सूरिश्वरजी* म.सा.की आज्ञानुवर्तीनी एवं प. पू.शासनज्योति साध्वीजी श्री *अनंतगुणा* श्री जी म. सा.सुशिष्या प. पू. ज्योतिष ज्योति, समता साधिका साध्वीजी *भव्यगुणा* श्री जी म.सा.,प. पू. मधुरभाषी साध्वीजी *शीतलगुणा* श्री जी म. सा.”स्नेही” आज 2020 के चातुर्मास के लिए में मंगल प्रवेश हुआ । काॅक्स टाउन स्थित वसंतराजजी भंसाली के निवास स्थान से साध्वीजी भगवंत ने प्रस्थान किया ।  सभी भाई बहिन सोशल डिस्टेंसिंग के साथ  फ्रेजर टाउन में मंगल प्रवेश हुआ।  संक्षिप्त स्वागत कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।

बेंगलुरु चातुर्मास प्रवेश के उपलक्ष्य* में अपने विचार व्यक्त करते हुए  *साध्वीजी भव्यगुणा श्री जी म. सा. ने कहा – हमे संसार में मेहमान बनकर रहना है। मेहमान हमेशा माल खाता हैं और मालिक हमेशा मार खाता है। चातुर्मास में ज्ञान, दर्शन, चारित्र ओर तप रुपी धर्म की अधिक से अधिक आराधना एवं साधना हो । धर्म की ज्योति घर घर जले । धर्म ज्योति द्वारा ही कोरोना से सुरक्षित रह सकते हैं ।  *”घर में रहें सुरक्षित रहें”* *घर कौनसा  हो ? आत्मा रूपी घर में हमें निवास करना है तभी हम सुरक्षित रह सकते हैं*।

कर्नाटक के इन क्षेत्रों में मैंने गत दो वर्ष के विचरण दौरान जैन समाज में पारस्परिक प्रेम और सौहार्द का अनुभव किया है।  आप सभी ने हमारा भाव भरा स्वागत किया है।   चातुर्मास में धर्म ज्योति को सतत प्रज्ज्वलित रहे ऐसा सभी को प्रयास करना है ।साध्वीजी शीतलगुणा श्री जी म.सा.* ने कहा – चातुर्मास धर्म की आराधना का अनूठा अवसर होता है । संतों को जंगम तीर्थ भी कहा जाता है । धर्म के द्वारा तीर्थ रूपी रथ को सदा आगे बढ़ाते हुए मोक्ष रूपी मंजिल को प्राप्त करना है । कामली* *वहोराने के लाभार्थी* शा चंद्रप्रकाशजी चंडालिया बेंगलोर   गुरूपूजन के लाभार्थी शा मनोहरलालजी गोलेच्छा बेंगलोरश्री पारसजी भंसाली ने अपने संयोजकीय व्क्तव्य में संपूर्ण जैन समाज की ओर से गुरू भगवंत का स्वागत किया अपने विचार व्यक्त किये । यह चातुर्मास हमें गुरुदेव की कृपा से हमारे सौभाग्य से प्राप्त हुआ।

मारासाब का चातुर्मास तो चैन्नई साहुकार पेठ स्थित राजेन्द्र जैन भवन के तत्वावधान में होना निश्चित हुआ था। कोरोना महामारी फैलने से बेंगलुरू सिटी से, आसपास के संघ की विनंती होने के बावजूदऔर हमारे प्रबल पुण्योदय से हमे लाभ प्राप्त हुआ है।हम‌ सबका दायित्व है चातुर्मास को सफल और ऐतिहासिक बनाये। श्री चंद्रप्रकाशजी ने सुंदर शब्दो के द्वारा कार्यक्रम का सुचारू रूप से संचालन किया।

श्री लेखेंद्र भव्य शीतल चातुर्मास समिति के मार्ग दर्शक श्री मोहनलालजी बोहरा, श्री मनोहरलालजी गोलेच्छा,श्री गौतमजी संचेती अध्यक्ष श्री वसंतराजजी भंसाली, डाॅ श्री जितेन्द्र जी,श्री विजयराज जी बागमार आदि समस्त समिति सदस्य गण पधारे हुए सभी भाग्यशाली महानुभावों का   स्वागत अभिनन्दन करते हुए उपस्थित सभी श्रावक श्राविकाओं का आभार श्री पारस जी भंसाली ने ज्ञापित किया । नवकारसी के लाभार्थी शा पारसजी भंसालीआज के संघपूजन के लाभार्थी श्री भीनमाल जैन संघ बेंगलोर,श्री राजेन्द्रसूरी जैन जागृति गुप्र अकीपेठ बेंगलोर, श्री वसंतराजजी भंसाली बेंगलोर, श्री विमलचंदजी कांठेड बेंगलोर*लेखेंद्र भव्य शीतल चातुर्मास समिति फ्रेजर टाउन, टेनरी रोड बेंगलुरु ( कर्णाटक )। 

Mukesh Nahar

Editor-in-Chief | ahinsakranti@gmail.com | 9021899800 Jodhpur, Rajasthan

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: