जैन समाचार

श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में निर्वाण लाडू चढ़ाया ।

अहिंसा क्रांति / दीपक प्रधान
धामनोद। जैन धर्म के 23 वे तीर्थंकर भगवान 1008 श्रीपार्श्वनाथजी  के मोक्ष कल्याणक पर जैन धर्मावलंबियों द्वारा श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में निर्वाण लाडू चढ़ाया । भगवान ने शाश्वत तीर्थ श्री सम्मेद शिखरजी की स्वर्णभद्र कूट से श्रवण शुक्ल सप्तमी को  मोक्ष प्राप्त किया यह दिवस मुकुट सप्तमी के नाम से  भी प्रसिद्ध है और जैन श्रावक उपवास भी करते है ।
आज जैन मंदिर में बड़े श्रद्धा भाव पूर्वक  श्री जी का अभिषेक पूजा कर निर्माण कांड का सामूहिक वाचन कर यह भावना  हम इस समय समेद शिखरजी में पार्श्वनाथ जी की टोक पर निर्माण लाडू चढ़ा रहे है  जिस प्रकार तीर्थंकर भगवान पार्श्वनाथ का लाडू चढ़ा रहे हमे भी इस जीवन मे भगवान की रजंभर धूल मिल जावे जिससे हमारा मॉनव जीवन तर जावे   मन्दिरजी से धामनोद के समीप बिकरोंन मंदिर में 1008 श्री पारसनाथ भगवान को भाव पूर्वक अर्घ व निर्माण लाडू चढ़ाया गया  इस आशय की जानकारी समाज सचिब अशोक प्रधान  व दीपक प्रधान ने दी  व आगे बताया कि बहुत से श्रावक श्राविकाओं ने टीवी के माध्यम से पूजा पाठ भी किया व 108 मुनि श्री अध्ययन सागरजी महाराज के 78 वे अवतरण दिवस पर अर्घ    चढ़ाया गया व  आज ही 22 वे तीर्थंकर भगवान श्री नेमीनाथ का जन्म व तप कल्याण दिवस भी मनाया गया।

Related Articles

Back to top button
Close