चातुर्मास 2020 CHATURMAS 2020चातुर्मास की खबरे एवं जानकारीजैन समाचार

चातुर्मास शुरू होने से 6 दिन पूर्व मिली स्वीकृति, श्रीसंघ में हर्ष – उल्लास

.AHINSA KRANTI NEWS/ RAJENDRA JAIN


नागदा। श्वेताम्बर मूर्तिपूजक जैन श्रीसंघ की चातुर्मासिक आराधना की शुरूआत 4 जुलाई शनिवार को होगी। इससे 6 दिन पूर्व रविवार दोपहर 4 बजे त्रिस्तुत्रिक सम्प्रदाय के पुण्यसम्राट सुविशाल गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद् विजय जंयतसेन सूरीश्वरजी मसा के पट्टधर आचार्य देवेश श्रीमद् विजय नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा एवं आचार्य देवेश श्रीमद् विजय जयरत्नसूरीश्वरजी मसा के आज्ञानुवर्त्ती साध्वीश्री शशिकलाश्रीजी एवं साध्वीश्री अविचल दृष्टाश्रीजी मसा की सुशिष्या साध्वीश्री मैत्रीकलाश्रीजी मसा एवं साध्वीश्री निरंजनकलाश्रीजी मसा आदि साध्वी के चातुर्मास की स्वीकृति प्राप्त हुई। श्रीसंघ अभी तक कुल 21 चतुर्मास हुए है जिसमे से यह पहला ऐसा मौका है कि चातुर्मास आराधना शुरू होने से ठीक 6 दिन पहले चातुर्मास करने के स्वीकृति प्राप्त हुई। साध्वीश्री के चातुर्मास स्वीकृति से श्रीसंघ में हर्ष एवं उल्लास व्याप्त है।


सादगी पूर्ण होगा चातुर्मासिक प्रवेश
साध्वीश्री का चातुर्मासिक प्रवेश 1 जुलाई बुधवार को सुबह 9.30 बजे महात्मागांधी मार्ग स्थित चन्द्रप्रभु जैन मंदिर परिसर से होगा। प्रवेश का चल समारोह नगर के प्रमुखों से होता हुआ लक्ष्मीबाई मार्ग स्थित पाठशाला भवन में धर्मसभा के रूप में परिवर्तित होगा। साध्वीश्री चातुर्मास के दौरान पाठशाला भवन में विराजित होकर श्रीसंघ द्वारा आयोजित धर्म आराधना में अपनी निश्रा प्रदान करेगे।


विगत 11 वर्षो से लगातर हो रहे है चातुर्मास आराधना
लक्ष्मीबाई मार्ग स्थित पाठशाला भवन में वर्ष 2009 से लगातार चातुर्मास धर्म आराधना का आयोजन किया जा रहा है। श्रीसंघ में इस वर्ष तपागच्छ समुदाय के साध्वीश्री प्रियदर्शनाश्रीजी की सुशिष्या साध्वीश्री मुक्तिदर्शनाश्रीजी मसा आदि ठाणा 7 का चातुर्मास तय हुआ था। साध्वीश्री प्रियदर्शनाश्रीजी मसा के चातुर्मास की स्वीकृति श्रीसंघ को 16 फरवरी 2020 को धार जिले के भोपावर तीर्थ में आयोजित प्रतिष्ठा महोत्सव के मौके पर प्राप्त हुई थी। साध्वीश्री मुक्तिदर्शनाश्रीजी मसा की अपनी गुरूणी साध्वीश्री प्रियदर्शनाश्रीजी मसा के अस्वस्थता के चलते 21 जून को नागदा नगर में चातुर्मास करने को लेकर असमथर्ता प्रदान की थी। इसी बीच 24 जून बुधवार को रात 8 बजे पाठशाला भवन में श्रीसंघ की साधारण सभा का आयोजित कर साध्वीश्री अविचलदृष्टाश्रीजी मसा की सुशिष्या साध्वीश्री मैत्रीकलाश्रीजी मसा आदि ठाणा का चातुर्मास करवाने का निश्चय किया गया। साध्वीश्री के चातुर्मास करवाने हेतु श्रीसंघ का प्रतिनिधि मंडल 25 जून गुरूवार को साध्वीश्री अविचलदृष्टाश्रीजी मसा से सम्पर्क कर विंनती की।


गच्छाधिपति के साथ खाचरोद श्रीसंघ से भी लेना पड़ी स्वीकृति
नगर में साध्वीश्री मैत्रीकलाश्रीजी मसा आदि ठाणा के चातुर्मास करने हेतु पुण्यसम्राट सुविशाल गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद् विजय जंयतसेन सूरीश्वरजी मसा के पट्टधर आचार्य देवेश श्रीमद् विजय नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा एवं आचार्य देवेश श्रीमद् विजय जयरत्नसूरीश्वरजी मसा के साथ खाचरोद श्रीसंघ से भी स्वीकृति लेना पड़ी। चुकि पूर्व साध्वीश्री मैत्रीकलाश्रीजी मसा आदि ठाणा का चातुर्मास खाचरोद में होना तय था इस हेतु साध्वीश्री ने अपनी गुरूणी साध्वीश्री अविचलदृष्टा श्रीजी मसा के साथ 26 जून शुक्रवार को चातुर्मास प्रवेश भी कर लिया था। पुनः 28 जून रविवार को श्रीसंघ प्रतिनिधि मंडल ने साध्वीश्री अविचलदृष्टाश्रीजी मसा के साथ खाचरोद जैन श्रीसंघ से विन्नती की। इसके उपरांत नागदा श्रीसंघ को साध्वीश्री मैत्रीकलाश्रीजी मसा के चातुर्मास की स्वीकृति प्राप्त हुई।


गाइड लाइन के अनुसार आयोजित होगे धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम
जानकारी देते हुए श्रीसंघ मीडिया प्रभारी डॉ. विपिन वागरेचा ने बताया कि श्रीसंघ की साधारण सभा में निर्णय लिया गया कि इस वर्ष की चातुर्मासिक गतिविधियों का आयोजन भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित गाइड लाइन के अनुसार सोशल डिस्टेश का पालन करते हुए होगा। धर्मसभा में उपस्थित होने वाले प्रत्येक श्रद्धालू को सोशल डिस्टेश का पालन करते हुए मास्क पहने के साथ साध्वीश्री के कुशलक्षेम जानने से पूर्व प्रत्येक समाजजन को हेण्ड सेन्टाइजर करना अनिवार्य होगा।


स्वीकृति पर जताया हर्ष
साध्वीश्री के नागदा नगर में चातुर्मास स्वीकृति हो लेकर श्रीसंघ अध्यक्ष विरेन्द्र सकलेचा, सचिव मुकेश बोहरा, पाठशाला भवन ट्रस्ट अध्यक्ष भंवरलाल बोहरा, शांतिनाथ ज्ञान मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष ब्रजेश बोहरा, चन्द्रप्रभु जैन मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष अशोक नांदेचा औरा, राजमल नांदेचा औरा, धनसुख गेलड़ा, रितेश नागदा, अभय चौपड़ा, दिलीप नांदेचा औरा, मनीष सालेचा व्होरा, आशीष चौधरी, हर्षित नागदा, गौतम नांदेचा औरा आदि ने हर्ष व्यक्त किया।

Mukesh Nahar

Editor-in-Chief | ahinsakranti@gmail.com | 9021899800 Jodhpur, Rajasthan

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: